2 अक्टूबर 2019 150 गांधी जयंती अहिंसा का अंतर्राष्ट्रीय दिवस

Posted On :-

Posted By :-

आज हम लोग महात्मा गाँधी की १५० वि जयंती मना रहे है. 2007 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने गांधी के जन्मदिन 2 अक्टूबर को "अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस" के रूप में घोषित किया गाँधी जी का जनम २ अक्टूबर १८६९ को गुजरात के पोरबन्दर मई हुआ था . गाँधी जी का पूरा नाम मोहनदास करम चाँद गाँधी था . करमचंद गाँधी उन के पिता जी एक अनमे था जो की राजकोट के दीवान थे इन की माता जी का नाम पुतली बाई था गाँधी जी को उन के अहिंसा से किये हुआ बड़े बड़े कामो के लिए जाना जाता है 

महात्मा गाँधी के विश्व बदलाव का सफर साउथ अफ्रीका में मई १८९४ को अफ्रीका में अश्वेत लोगो से होने वाले भेद भाव के खिलाफ अहिंसक विरोध से सुरु हो कर भारतीय क्रांति के महनायक बनते हुए ३० जनवरी १९४८ को नाथूराम राम गोडसे  द्वारा मारी गयी गोली से ख़तम हुआ 

महात्मा गाँधी भारतीयर स्वतंत्र संग्राम के पितामह थे माथमा गांधीजी को हम लोग प्यार से बापू के नाम से भी याद  करते है 

बापू बेशक हमारे बीच न रहे हो हो पर उन की दी गयी सीख हमेसा हम्हारे साथ रहेगी उन के दिखये गए मार्ग पर चलना ही उन को सच्ची श्रधंजलि है 

आये हम सब भी बापू के १५० वे जन्मदिन पर प्रण करे की बापू के दिखये गए रस्ते पर चले बपुए ने जो कहा उसे पालन करे 

अहिंसा , स्वछता , देश प्रेम, सदा जीवन उच्च विचार, अपनी मात्रा भाषा हिंदी को सम्मान आदि 

हम सब ने बापू के बारे में तो वैसे बहुत कुछ सुन और पढ़ ही रखा है यहाँ हम बापू जी ( महात्मा गाँधी जी) के बारे में उन की जयंती पर १० फैक्ट्स जानेगे।


महात्मा गांधी के बारे में 10 रोचक तथ्य 


1. गांधी जी की मातृ-भाषा गुजराती थी।


2. गांधी जी ने अल्फ्रेड हाई स्कूल, राजकोट से पढ़ाई की थी।


3. गांधी जी का जन्मदिन 2 अक्टूबर अंतरराष्ट्रीय अंहिसा दिवस के रूप मे विश्वभर में मनाया जाता है।


4. वह अपने माता-पिता के सबसे छोटी संतान थे उनके दो भाई और एक बहन थी।


5. गांधी जी के पिता धार्मिक रूप से हिंदू तथा जाति से मोध बनिया थे।


6. माधव देसाई, गांधी जी के निजी सचिव थे।


7. गांधी जी की हत्या बिरला भवन के बगीचे में हुई थी।


8. गांधी जी और प्रसिध्द लेखक लियो टोलस्टोय के बीच लगातार पत्र व्यवहार होता था।


9. गांधी जी ने दक्षिण अफ्रीका के सत्याग्रह संघर्ष के दोरान , जोहांसबर्ग से 21 मील दूर एक 1100 एकड़ की छोटी सी कालोनी, टॉलस्टॉय फार्म स्थापित की थी।


10.  गांधी जी का जन्म शुक्रवार को हुआ था, भारत को स्वतंत्रता शुक्रवार को ही मिली थी तथा गांधी जी की हत्या भी शुक्रवार को ही हुई थी।


गांधी जयंती क्यों मनाई जाती है और इसका क्या महत्व है?


महात्मा गांधी भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के नेता थे जिन्होंने अहिंसा के मार्ग पर चलकर ब्रिटिश शासन के खिलाफ आवाज़ उठाई. उनको अपने अहिंसक विरोध के सिद्धांत के लिए अंतर्राष्ट्रीय ख्याति भी प्राप्त हुई है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि महात्मा गांधी भारत एवं भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के एक प्रमुख राजनीतिक एवं आध्यात्मिक नेता थे. क्या आप जानते हैं कि महात्मा गांधी को महात्मा की उपाधि रवीन्द्र नाथ टैगोर ने दी थी और रवीन्द्र नाथ टैगोर को गुरुदेव की उपाधि गांधी जी ने दी थी.


गांधी जयंती क्यों मनाई जाती है?


महात्मा गांधी जी का पूरा नाम मोहनदास करम चंद गांधी है और उनका जन्म 2 अक्टूबर, 1869 को पोरबन्दर, गुजरात में हुआ था. उन्हें राष्ट्रपिता, बापू के नाम से भी संबोधित किया जाता है.


महात्मा गांधी वह व्यक्ति थे जिन्होंने भारत की स्वतंत्रता के लिये अंग्रेजों के खिलाफ अपने पूरे जीवन भर संघर्ष किया.


उनका लक्ष्य अहिंसा, ईमानदार और स्वच्छ प्रथाओं के माध्यम से एक नए समाज का निर्माण करना था.


वे कहते थे कि अहिंसा एक दर्शन है, एक सिद्धांत है और एक अनुभव है जिसके आधार पर समाज का बेहतर निर्माण करना संभव है.


उनके अनुसार समाज में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति को समान दर्जा और अधिकार मिलना चाहिए भले ही उनका लिंग, धर्म, रंग या जाति कुछ भी हो.


"आज़ादी का कोई मतलब नहीं, यदि इसमें गलती करने की आज़ादी शामिल न हो" – महात्मा गांधी


भारत में और दुनिया भर में महात्मा गांधी को सादे जीवन, सरलता और समर्पण के साथ जीवन जीने के सर्वोत्तम आदर्श के रूप में सराहा जाता है. उनके सिद्धांतों को पूरी दुनिया ने अपनाया है. उनका जीवन अपने आप में एक प्रेरणा है. इसलिए ही उनके जन्मदिन पर यानी 2 अक्टूबर को गांधी जयंती राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाई जाती है.


यह भी पढ़ें

भारत-म्यांमार ने व्यक्तियों की तस्करी की रोकथाम के लिए द्विपक्षीय सहयोग पर समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

कैबिनेट ने भारत-चिली के बीच दोहरे कराधान से बचाव समझौते को मंजूरी दी

2 अक्टूबर 2019 150 गांधी जयंती अहिंसा का अंतर्राष्ट्रीय दिवस

HInd Classes

1630 Burj Usman Kha , 
khurja, (U.P) INDIA

+91 99 9782 8281

contact@hindclasses.in

  • Instagram - Grey Circle
  • Pinterest - Grey Circle
  • Facebook - Grey Circle
  • YouTube - Grey Circle

What can we help you with?

Hind Classes © 2017-19 All Right Reserved