System of units

System of units इकाइयों की प्रणाली।


जैसा कि हम जानते हैं भौतिकी Physics विज्ञान Science की वह ब्रांच है जो की प्रकृति और प्राकृतिक घटनाओं के बारे में बताती है। इसमें हम कई तरह की गणना करते हैं उनमें अलग-अलग तरह की मात्रा Quantity लेते हैं।

गणना के समय हमें कोई कंफ्यूजन ना हो कि हमने कौन-कौन सी मात्रा ली हैं इस कंफ्यूजन को दूर करने के लिए हमने इकाई बनाई जिससे हम यह पता कर सकें कि यह इकाई किस मात्रा की है और यह किस चीज को प्रदर्शित करता है ताकि गणना आसान हो सके और उसमें कोई कंफ्यूजन या त्रुटि ना हो।

हमने अलग-अलग मात्राओं के अलग-अलग इकाई निर्धारित करें जैसे लंबाई नापने के लिए मीटर m, समय नापने के लिए सेकंड s, वजन नापने के लिए किलोग्राम kg , आदि निर्धारित करें जिससे हम इकाई को देखकर पता कर सके हैं कि हमने क्या मापा है और उसके हिसाब से अपनी गणना कर सकें।


Fundamental and Derived units मौलिक तथा व्युत्पन्न इकाई।



Fundamental Quantities मौलिक इकाई।


Fundamental quantity of those quantity which cannot be expressed in the term of other fundamental other physical quantity they are independent to other quantities

for example:- length, mass and time.


मौलिक राशि वो इकाई होती हैं जिन्हें हम दूसरी इकाईयो के रूप में व्यक्त नहीं कर सकते यह दूसरी इकाईयो से स्वतंत्र होती हैं यह अपने आप में ही पूर्ण होती हैं इन्हें किसी दूसरी इकाईयों की आवश्यकता नहीं पड़ती।

उदाहरण के लिए:- दूरी, वजन और समय।


भौतिकी में हमारी 7 मौलिक इकाई fundamental units होती हैं।


  1. length लंबाई

  2. mass वजन

  3. time समय

  4. temperature तापमान

  5. electric current विधुत करंट

  6. luminous intensity चमकदार तिव्रता

  7. quantity of matter पदार्थ की मात्रा

तथा इनके अलावा दो और


  1. Plane angle विमान कोण

  2. Solid angle ठोस कोण

होती हैं।


Derived Quantities व्युत्पन्न इकाई


Drive quantity are those quantity which can be by the use of two or more fundamental quantities they don't have their identity they can be expressed in the form of two or more physical quantities.

for example:- speed, force and torque.


बसपा ने खाई हम उन इकाइयों को कहते हैं जो कि दो या दो से अधिक मालिक इकाइयों को मिलाकर बनाई जाए।

उदाहरण के लिए:- गति, बल तथा बल आघूर्ण।

Standard units मानक इकाइयां


माना के काया हम उन इकाइयों को कहते हैं जो की गणना या नापने के लिए पूरे विश्व में समान रूप से प्रयोग की जाती हैं। जैसे समय के लिए सेकंड दूरी के लिए मीटर तथा वजन के लिए किलोग्राम।

Need of standard unit मानक इकाइयों की आवश्यकता।

हम जानते हैं कि विश्व के अलग-अलग कोनों में नापने के लिए अलग-अलग प्रणाली का प्रयोग किया जाता है। जैसे कि कुछ दूर चलते ही भाषाओं में परिवर्तन आ जाता है वैसे ही जगह परिवर्तन के साथ किसी भी राशि को नापने की पद्धति में भी परिवर्तन आ जाता है। जैसे हमारे यहां जगह गज कट्ठा बीघा इत्यादि में ना पाए जाते हैं वहीं ब्रिटेन में फुट में नापी जाती थी। अब यदि हम यहां से कुछ गणना करके ब्रिटेन भेजते या ब्रिटेन से कुछ जगह की गणना करके यहां भेजी जाती तो यहां पर इकाइयों में अंतर के कारण गणना में काफी परिवर्तन आ जाता। इसी तरह से विश्व भर में की गई गणना या नापी गई राशियां समान इकाइयों में नापी जाए तथा गाना पूरे विश्व में एक समान हो जगह परिवर्तन के कारण उनमें कोई अंतर ना रहे। इसी अंतर को दूर करने के लिए दुनिया भर के वैज्ञानिकों ने एक मानक इकाई पद्धति अपनाई और गणना के लिए पूरे विश्व में उसी को प्रयुक्त किया जाने लगा।

जैसे कि अभी हम बात कर चुके हैं कि विश्व के अलग-अलग कोनों में गणना के लिए अलग-अलग इकाइयों का प्रयोग किया जाता था जिसमें से कुछ प्रसिद्ध इकाइयां हैं।


  1. FPS system foot pound and second system यह पद्धति ब्रिटेन के इंजीनियरों द्वारा प्रयोग में लाई जाती थी जहां दूरी नापने के लिए फुट वजन नापने के लिए पाउंड और समय नापने के लिए सेकंड का प्रयोग किया जाता था। पर यह पद्धति एक क्षेत्रीय पद्धति थी और इसकी द्वारा मापी गई इकाइयों को दूसरी जगह मापने के लिए हमें परिवर्तित करना पड़ता था। इसलिए यह पद्धति ज्यादा प्रसिद्ध नहीं हो पाई और लोगों ने इसका प्रयोग छोड़ दिया।

  2. CGS system centimetre gram and second system यह गोसाई सिस्टम था इसमें दूरी के लिए सेंटीमीटर वजन के लिए ग्राम तथा समय के लिए सेकंड का प्रयोग किया जाता था। इस सिस्टम में मात्रक बहुत छोटे हुआ करते थे जिनसे बड़ी गणना करना बहुत जटिल हो जाया करता था इसलिए यह सिस्टम अब प्रयोग में नहीं लिया जाता।

  3. MKS system metre kilogram and second इसमें दूरी के लिए मीटर वजन के लिए किलोग्राम तथा समय के लिए सेकेंड का प्रयोग किया जाता था इसी सिस्टम को आगे जाकर स्टैंडर्ड यूनिट यानी की मानक इकाइयों के रूप में विकसित किया गया।

Standard units


  1. दूरी के लिए मीटर (m)

  2. वजन के लिए किलोग्राम (kg)

  3. समय के लिए सेकंड (s)

  4. विद्युत करंट के लिए एंपियर (A)

  5. तापमान के लिए केल्विन (K)

  6. चमकदार तीव्रता के लिए कैंडिला (cd)

  7. पदार्थ की मात्रा के लिए मोल (mol)

  8. विमान कौन के लिए रेडियन (rad)

  9. ठोस कोण के लिए स्टेरॉडिण (sr)

लिए गए।

4 views
Read Also

Current Affairs

HInd Classes

1630 Burj Usman Kha , 
khurja, (U.P) INDIA

+91 99 9782 8281

contact@hindclasses.in

  • Instagram - Grey Circle
  • Pinterest - Grey Circle
  • Facebook - Grey Circle
  • YouTube - Grey Circle

What can we help you with?

Hind Classes © 2017-19 All Right Reserved